मायावती ने नसीमुद्दीन सिद्दीकी और बेटे को पार्टी से निकाला

0
57

हुजन समाज पार्टी ने अपने सबसे बड़े मुस्लिम चेहरे नसीमुद्दीन सिद्दीकी और उनके बेटे अफजल सिद्दीकी को पार्टी से निकाल दिया है. दोनों पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाकर बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीएसपी की भद्द पिटने के बाद से ही नसीमुद्दीन पर कार्रवाई की तलवार लटक रही थी.

बीएसपी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि, “नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बेनामी संपत्ति बना ली है. साथ ही इनके कई अवैध बूचड़खाने भी चल रहे हैं, जिसके चलते पार्टी की छवि खराब हो रही थी.”

सतीश चंद्र ने नसीमुद्दीन पर पार्टी के नाम पर अवैध वसूली का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि, “नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने विधानसभा चुनाव में योग्य प्रत्याशियों को टिकट देने के बजाय ज्यादा पैसे देने वाले उम्मीदवारों को टिकट दिए, जिसका पार्टी को भारी नुकसान उठाना पड़ा.”

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की बड़ी राजनीतिक ताकत रही बीएसपी को विधानसभा चुनावो में महज 19 सीटे ही मिल पाई. लोकसभा चुनाव में तो बीएसपी एक भी सीट नहीं जीत पाई. पार्टी की हालत इतनी पतली है कि मायवती का खुद का फिलहाल राज्यसभा में चुनकर आने का रास्ता भी बंद नजर आ रहा है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY