बीजेपी को देख ‘हे राम’ से ‘जय श्री राम’ हुए नीतीश कुमार- तेजस्वी

0
79

बिहार की राजनीति में नीतीश कुमार की सरकार फिर से बनकर तैयार है. नीतीश कुमार ने लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल से नाता तोड़ बीजेपी से गठबंधन कर लिया है. आज विधानसभा में नीतीश कुमार की नए गठबंधन (जेडीयू और बीजेपी) वाली सरकार का फ्लोर टेस्ट हुआ. जिसके बाद नीतीश की नई सरकार ने विश्वास मत जीत लिया.

फ्लोर टेस्ट में नीतीश की नई गठबंधन सरकार को 131 विधायकों का समर्थन मिला और विरोध में 108 वोट पड़े.

फ्लोर टेस्ट के बाद नीतीश कुमार ने विधानसभा में भाषण दिया. नीतीश कुमार ने अपने भाषण में आरजे़डी के साथ हुए गठबंधन पर खूब आरोप लगाए और कांग्रेस को भी निशाने पर लिया. नीतीश बोले, बिहार की जनता ने काम करने के लिए जनादेश दिया था राज’भोग के लिए नहीं. हम अपने सिद्धांतों और सुशासन से समझौता नहीं कर सकते.

नीतीश ने आगे कहा कि जो लोग धर्मनिरपेक्षता का पाठ उन्हें पढ़ा रहे हैं उन्हें जनता के हित में काम करना चाहिए. नीतीश ने कहा कि भ्रष्टाचार को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. एक परिवार की सेवा के लिए वोट नहीं मिला था. बीजेपी के साथ जाने का फैसला जनता के हित में लिया गया है.

बिहार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट से पहले तेजस्वी यादव ने नीतीश पर जोरदार हमला किया और कहा कि अपने फायदे के लिए नीतीश हे राम से जयश्रीराम हो गए. तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी-जेडीयू का गेम फिक्स था और संघ मुक्त भारत की बात करते-करते नीतीश कुमार संघ की गोदी में जाकर बैठक गए.

तेजस्वी ने आगे कहा कि नीतीश कुमार ने कभी भी मेरा इस्तीफा नहीं मांगा था तो मैं सोचता रहा कि वह इस्तीफा नहीं चाहते. लेकिन नीतीश जी ने अचानक अपना इस्तीफा देकर पहले से तय प्लान को पूरा किया. आरजेडी से गठबंधन टूटने के बाद पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर खूब भड़ास निकाली.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY