पूर्व दलित मंत्री की बेटी के यौन उत्पीड़न में बिहार कांग्रेस उपाध्यक्ष ब्रजेश पांडेय का इस्तीफा!

0
217

बिहार के कांग्रेस नेता ब्रजेश पांडेय को खुद पर बलात्कार और सेक्स रैकट चलाने के आरोप लगने के बाद पार्टी का उपाध्यक्ष पद गंवाना पड़ा है. राज्य के एक पूर्व दलित मंत्री की नाबालिग बेटी ने ब्रजेश पांडेय पर ऐसे आरोप लगाए है. पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

पांडेय ने अपना इस्तीफा देने के बाद अपने बचाव में कहा है कि, “मेरा नाम न तो लड़की की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में है और न ही सीआरपीसी की धारा 164 के तहत दर्ज कराए गए बयान में. बाद में एक सुनियोजित साजिश के तहत मेरा नाम जानबूझकर लिया गया है.”

पीड़िता ने मंगलवार को मीडिया के सामने आरोप लगाते हुए कहा कि, “ब्रजेश पांडेय ने भी रेप की कोशिश की थी. एक बार मुझे निखिल प्रियदर्शी बोरिंग रोड के फ्लैट में लेकर गया. फिर वहां पे कोल्डड्रिंक में कुछ नशीला पदार्थ मिला कर मुझे पिला दिया. वो मुझे अकेले छोड़ कर चला गया. उस वक्त ब्रजेश पांडेय वहां मौजूद था. मेरे अनकॉन्शस होने का उसने फायदा उठाया और मेरे प्राइवेट पार्ट को टच किया. उसने रेप करने का भी प्रयास किया. इस घटना के बाद मैं डिप्रेशन में चली गयी. निखिल से इस बात को लेकर काफी लड़ाई हुई, तो वह मुझे धमकी देने लगा.”

पुलिस के मुताबिक पांडेय का नाम मुख्य आरोपित निखिल प्रियदर्शी के साथ केस में शामिल किया गया है. पेशे से कार डीलर निखिल के पिता कृष्ण बिहारी प्रसाद सिन्हा का नाम भी इस केस में है.

पीड़ित दलित लड़की ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि प्रियदर्शी ने शादी का झांसा देकर उनका यौन उत्पीड़न किया जबकि उसके पिता जो एक रिटायर्ड आईएएस अफसर ने उसे धमकाया. पिछले साल दिसंबर महीने में पीड़ित लड़की मामला दर्ज कराया था जांच होने पर ब्रजेश पांडेय का नाम भी सामने आया.

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY