तीन तलाक पर मुस्लिम बहनों को न्याय मिले- नरेन्द्र मोदी

0
168

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए मुस्लिम महिलाओं को भरोसा दिलाया कि ट्रिपल तलाक पर मोदी सरकार और पार्टी उनके साथ है. मोदी ने तीन तलाक पर मुस्लिम महिलाओ की दिक्कतो का जिक्र कर उन्हे न्याय दिलाने की जरुरत पर जेर दिया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, “तीन तलाक से मुस्लिम बहनें कष्ट में हैं. उन्हें न्याय की जरूरत है. हमें इसके लिए कोशिश करनी चाहिए. इस मुद्दे पर जिला स्तर पर काम करने की जरूरत है.”

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने साफ किया कि, “तीन तलाक के मुद्दे पर वो मुसलमानों में संघर्ष नहीं चाहते, बल्कि यह चाहते हैं कि सभी को न्याय मिले. सभी को न्यू इंडिया के फ़ॉर्म्युले पर आगे बढ़ना चाहिए.”

मोदी ने बीजेपी की कार्यकारिणी की बैठक में मुसलमानों की बदहाली का भी मुद्दा उठाया. मोदी ने अपनी पार्टी को सलाह दी है कि “पिछड़े मुसलमानों’ पर एक कॉन्फ्रेंस बुलानी चाहिए. मुसलमानों में कुछ वर्ग पिछड़े हुए हैं. उन्हें पिछड़े वर्गों पर होने वाली चर्चा में शामिल करना चाहिए.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन तलाक के मुद्दे पर ओडिशा में बोल रहे थे ठीक उसी समय मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने अपना पुराना अड़ियल रवैया अपनाते हुए कहा कि, “तीन तलाक पर बाहरी हस्तक्षेप को स्वीकार नहीं किया जाएगा. तीन तलाक देने वालों का सामाजिक बहिष्कार होना चाहिए.”

खास बात ये है कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड एक एनजीओ है लेकिन वो देश में मुस्लिमो की हिमायत के नाम पर मुस्लिम समाज की सैंकड़ो साल पुरानी प्रथा और पिछड़ेपन को मुस्लिम समाज पर धर्म के जरुरी रीति-रिवाज बताकर थोपता रहा है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY