जब मैच में लगा 3 मीटर का छक्का

0
180
Representative Image

भारत में क्रिकेट को भगवान की तरह पूजा जाता है. क्रिकेट के मैदान पर सभी दर्शक रोमांच के लिए आते है. हाथो में 6 या 4 रन के लिए प्लेकार्ड लेकर स्टैंड्स में खड़े रहते है. हर बोल पर खेल प्रेमी चाहता है कि बल्लेबाज छक्का या चौका मारे… इसलिए क्रिकेट में ताबड़तोड़ बल्लेबाजो को सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है चाहे वो विरेंद्र सहवाग हो, या क्रिस गेल किसी भी देश से क्यों ना हो खेलप्रेमियों को छक्के चौके पसंद होते है.

खेलप्रेमी खिलाड़ियों से सबसे लंबा छक्का मारने की आश रखते है. ऐसे में आप कई बार लंबे-लंबे सिक्स देखते हैं. कोई 99 मीटर का होता है तो कोई 130 मीटर तक का. हर छ्क्के पर देखा जाता है कि यह कितना लंबा था. लेकिन हम आज आपको सबसे छोटे 6 रन के बारे में बताएंगे, जिसे आप 3 मीटर का छक्का भी कह सकते है. जी हां, क्योंकि महज तीन मीटर की दूरी पर गेंद गिरने से टीम के खाते में छह रन जुड़ गए. दरअसल हुआ यूं कि विकेटकीपर का हैलमैट अक्सर विकटो के पीछे रखा होता है. इसलिए आईसीसी के नियमो के मुताबिक अगर गेंद विकेटकीपर के हैलमैट पर लग जाती है तो बल्लेबाजी करने वाली टीम को 5 रन मिलते है.

ऐसा ही कुछ 2002 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के एक मैच में हुआ था. ये मैच श्रीलंका और पाकिस्तान के बीच कोलंबो में खेला जा रहा था. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान 25 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 94 रन बना चुका था. 26वें ओवर में लेग स्पिनर उपल चंदना ने फुल लेंथ गेंद फेंकी, जिसपर राशिद लतीफ ने स्वीप शॉट खेला. गेंद विकेट कीपर के सिर के ऊपर से होते हुए विकेटों के पीछे रखे हैलमैट पर जा गिरी. जिससे टीम को 5 रन मिले और टीम के बल्लेबाजो ने एक रन भागकर ले लिया. इस तरह टीम को तीन मीटर पर गिरी गेंद से 1 गेंद पर 6 रन मिल गए.

मैच का यह वीडियो यूट्यूब पर शेयर किए गए वीडियो में से एक है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY