ग्रेटर नोएडा में 4 महिलाओं से गैंगरेप, परिवार के मुखिया की गोली मारकर हत्या

0
112

त्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ को सत्ता संभाले दो महीने हो गए है लेकिन राज्य में अपराधियो पर लगाम अबतक नहीं लग पाई है. बुधवार की रात ग्रेटर नोएडा में एक्सप्रेसवे पर एक मुस्लिम परिवार की 4 महिलाओं के साथ बलात्कार किया गया और परिवार के मुखिया की गोली मारकर हत्या कर दी गई. ये परिवार असपताल में भर्ती अपने रिश्तेदार से मिलने के लिए जेवर से बुलंदशहर जाने के लिए निकला था लेकिन आधी रात को हाइवे पर हैवानो की दरिंदगी का शिकार बन गया.

कार में सवार परिवार को रोकने के लिए कार के टायर में गोली मारकर उसे रोक लिया गया. लूट का विरोध करने पर मुखिया को गोली मार दी गई जिसकी मौके पर ही मौत हो गई. बदमाशो ने लूटपाट के अलावा उसकी मां, बहन, पत्नी व भाभी  के साथ गैंगरेप किया.

 

बुधवार देर रात 1:30 बजे के करीब जेवर से बुलंदशहर जा रहे कार सवार परिवार के साथ जेवर-बुलंदशहर हाईवे पर बदमाशों ने साबौता गांव के पास लूटपाट की. विरोध करने पर परिवार के मुखिया शकील की गोली मार कर हत्या कर दी और परिवार के पुरुषों के सामने ही परिवार की चार महिलाओं के साथ गैंगरेप किया गया.

गाड़ी में चार महिलाओं के अलावा चालक समेत 4 पुरुष भी थे लेकिन आधा दर्जन से ज्यादा बदमाशो ने हथियारो के बल पर सबको काबू में कर लिया. बदमाशो ने गैंगरेप के अलावा 40 हजार रुपए से ज्यादा की रकम और महिलाओं के जेवर भी लूट लिए.

पिछले साल अखिलेश सरकार के दौरान भी 29, जुलाई 2016 को भी ऐसी ही गैंगरेप की वारदात हुई थी. बुलंदशहर के दोस्तपुर गांव में दिल्ली-कानपुर हाईवे पर बदमाशों ने एक परिवार को बंधक बनाकर मां और बेटी के साथ रेप किया था. यह परिवार नोएडा से शाहजहांपुर अपने रिश्तेदार की मौत होने के बाद गमी में जा रहा था लेकिन बीच रास्ते में ही दरिंदगी का शिकार बन गया.

ग्रेटर नोएडा में एक ही परिवार की महिलाओं के साथ हाइवे पर गैंगरेप की ताजा वारदात से फिर साबित हो गया है कि राज्य में सरकार किसी की भी रहे अपराधी बेलगाम है और रात के अंधेरे में हाइवे पर नागरिको को अपनी दरिंदगी का शिकार बनाने का सिलसिला अभी रुका नहीं है.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY