“ग्राहम स्टेंस और उसके दो बच्चो की हत्या सही, दारा सिंह को उड़ीसा का सीएम बनवाएंगे”- ओमजी

0
565

ज से ठीक 18 साल पहले ओडिशा के क्योंझर जिले के मनोहरपुर गांव में दारा सिंह ने साल 1999 में 22 जनवरी की रात ऑस्ट्रेलिया के ग्राहम स्टेंस और उनके दो बच्चो फिल्लिप और टिमोथी को जिंदा जीप में जला दिया था. ग्राहम स्टेंस को बजरंग दल से जुड़ा रहा दारा सिंह इसाई मिशनरी और कुष्ठ रोगियो की सेवा के बहाने धर्मपरिवर्तन कराने का दोषी मानता था. ओमजी स्वामी धर्मरक्षा के नाम पर जिंदा जला देने वाले दारा सिंह को असली हीरो मानता है. हत्यारे दारा सिंह के नाम पर बने संगठन धर्मरक्षक दारा सेना का स्वामी ओमजी स्वयंभू महामंत्री भी है. स्वामी ओमजी भी धर्म उन्मादी दारा सिंह की तरह हिंदू धर्म के हर विरोधी को खत्म करना चाहता है. अपने भड़काऊ बयानो में वो इसाई धर्म और इस्लाम की बढ़ती ताकत को हिंदू धर्म, सनातन परंपरा, राष्ट्र और संस्कृति के लिए बड़ा खतरा मानता है.

2471

भारत की धर्मनिरपेक्षता पर ग्राहम स्टेंस और उनके दो बच्चो फिल्लिप और टिमोथी की हत्या एक दाग है. लेकिन ओमजी का कहना है कि, ” दारा सिंह ने ग्राहम स्टेंस के दो बच्चो को मारकर अच्छा किया. सांप का बेटा संपोलिया होता है. बिन लादेन का बेटा वहीं कर रहा है जो बिन लादेन करता था स्टेंस के दोनो बेटे भी हिंदू धर्म के खिलाफ वहीं करते जो उसका बाप करता था”

अदालत ने ग्राहम स्टेंस और उसके दो बच्चों की हत्या के अलावा दारा सिंह को एक मुस्लिम व्यापारी शेख रहमान के हाथ काटकर उसे जिंदा जलाने और एक पादरी अरुल दास की हत्या की साजिश का दोषी मानकर आजीवन कारावास की सजा दी है लेकिन स्वामी ओमजी दारा सिंह के संगीन गुनाह को भी ऐसी धार्मिक मिसाल बताता है जो हर हिदू को अपना धर्म बचाने के लिए करनी चाहिए. ओमजी का कहना है कि,”दारा सिंह ने जो किया वो हर हिंदू को करना चाहिए. मारो हिन्दूविरोधियो को मारो देशद्रोहियो को ”

केन्द्र सरकार ने स्टेंस दंपत्ति की समाजसेवा और कुष्ठ रोग के उन्मूलन में उनके योगदान को देखते हुए ग्लेडिस स्टेंस को 2005 में सर्वोच्च नागरिक सम्मान पदम श्री से सम्मानित किया था. लेकिन ओमजी ने भड़काऊ आरोप लगाते हुए कहा है कि,” उस वक्त की सरकार सीआईए की एजेंट थी इसलिए धर्मपरिवर्तन कराने वालो को सम्मानित किया गया.” 2466 copy

ओमजी से जब पूछा गया कि क्या उसकी नजर में  कानून और संविधान का कोई सम्मान नहीं है तो उसने सलमान खान के बरी होने का हवाला देते हुए कहा कि,” मैं ऐसे कानून का सम्मान क्यो करुं जिसकी अदालतो में बैठे जज पैसे लेकर फैसला सुना देते है.”

स्वामी ओमजी ने मांग की है कि, “दारा सिंह को जेल से रिहा किया जाए वरना उसकी रिहाई के लिए आंदोलन होगा और दारा जैसे धर्म-रक्षक को जेल से रिहा करवाकर ओडिशा का मुख्यमंत्री बनवाया जाएगा.”2474

अपने पति और दो मासूम बच्चो को धर्मरक्षा के नाम पर हुए हमले में खोने के बाद भी ग्राहम स्टेंस की पत्नी ग्लेडिस स्टेंस ने हिंसा और बदले के ऊपर मानवता की मिसाल रखते हुए दारा सिंह को माफ कर दिया था. देश छोड़ने से उन्होने कहा था कि,” उसने सही क्या या गलत ये कहना मेरे वश से बाहर की बात है लेकिन मैं उम्मीद करती हूं कि उसमें सुधार हो परमात्मा उसको शांति दें”
2469ग्राहम स्टेंस की पत्नी कभी-कभार ओडिशा के दौरे पर आती है उनका कहना है कि, “मेरे मन में किसी के लिए द्वेष नहीं है. मैं ओडिशा के दौरे पर अपने दोस्तो से मिलने आती हूं. मैं आज भी भारत को प्यार करती हूं.”

ग्राहम स्टेंस दंपत्ति ने करुणा और दया को आधार बनाकर अपना जीवन समर्पित कर दिया लेकिन दारा सिंह को धर्मरक्षक मानने वाले इस देश की मिट्टी के मूल सिंद्धांतो अहिंसा परमोधर्म, विश्वशांति और वसुधैव कुटुम्बकम को भूलाकर हिंसा, आगजनी और खूनखराबे के लिए भड़काकर ही धर्मसेवा करना चाहते है.

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY