केजरीवाल के वादे झूठे, एमसीडी चुनाव जीतेगी बीजेपी- उदित राज

0
208

बीजेपी के उत्तर पश्चिम दिल्ली से सांसद और दलित नेता उदित राज को पूरा यकीन है कि नगर-निगम चुनावो में बीजेपी की ही जीत होगी. उदित राज के मुताबिक केजरीवाल ने जो वादे किए वो पूरे नहीं किए. आप पार्टी 70 सूत्री कार्यक्रम का प्रचार कर सत्ता में तो आ गई लेकिन सरकार का आधा कार्यकाल बीतने के बाद भी ना तो नए स्कूल खुले और ना ही कॉलेज. केजरीवाल सरकार ने नारी सुरक्षा पर कुछ नहीं किया और उसका दिल्ली में हजारो कच्चे कर्मचारियो को पक्का करने का वादा भी झूठा निकला. दिल्ली में एमसीडी चुनाव और बीजेपी की उम्मीदो पर हमने उदित राज के साथ की एक खास बातचीत.

बीजेपी ने अपने किसी भी पुराने पार्षद को टिकट नहीं दिया है. पार्टी ने उम्मीदवार भी सबसे आखिर में तय किए हड़बड़ी में अंतिम दिन पर्चा भरने की वजह से पार्टी के 4 उम्मीदवारो के पर्चे भी रद्द हो गए लेकिन इन सबके बावजूद उदित राज को भरोसा है कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की तरह बीजेपी एमसीडी की 272 सीटो के चुनाव में भी शानदार जीत दर्ज करेगी.

प्रश्न: एमसीडी के चुनाव होने वाले है लेकिन दिल्ली की कमान केजरीवाल के हाथ में आपको जीत की कितनी उम्मीद है.?

उत्तर: एमसीडी में हम जीतेंगे. उतराखंड और उत्तर प्रदेश ने सारी भ्रांतिया दूर हो गई. फुल स्टाप लगा दिया हम एमसीडी में जीतेंगे.

प्रश्न: आपकी लिस्ट सबसे आखिर में आती है. प्रचार सबसे देर से शुरु होता है. कैसे जीतेंगे.?

उत्तर: ये सब हर पार्टी की अपनी अंदरुनी रणनीति होती है. रणनीति के उपर किसी को प्रश्नचिन्ह खड़ा करने का सवाल ही पैदा नहीं होता. जो हमारे सुविधा के हिसाब से हुआ हमने किया जो उनकी सुविधा के हिसाब से था वो उन्होने किया.

प्रश्न: आपने केजरीवाल पर दो तरह के भ्रष्टाचार आर्थिक भ्रष्टाचार और मानसिक भ्रष्टाचार की बात कही. उसका सिध्दांत , तात्प्रय क्या है ?

उत्तर: हां, जो कहते है वो करते नहीं है. 70 कार्यक्रम का प्रचार कर आप सत्ता में आए थे. 70 सूत्री कार्यक्रम में जो वायदे थे वो कितने पूरे हुए.?

ढाई साल  उनकी सरकार का पूरा हो गया. आधा समय उनका भी तो खत्म हो गया.

प्रश्न: गरीबो को जो राहत देने वाली बात है. बिजली, पानी की बात है उसमें एक खास तबका दलितो का भी होता है जो बड़े शहरो की तरफ आते है. प्रवास करते है उनको तो फायदा मिला ही है.?

उत्तर: हो सकता है कुछ लोगो को मिला हो लेकिन जो 70 सूत्री कार्यक्रम था कितना उसमें से कितना लागू हुआ? ठेकेदारी प्रथा खत्म कर पक्का करने की बात कही. हजारो टीचर, ड्राइवर, सफाई कर्मचारी है उनमे कितनो को पक्का किया. 500 आदर्श स्कूल, 20 कॉलेज बनाएंगे. दलितो को ऋणमुक्त लोन देंगे, नारी सुरक्षा की बात कही. क्या हुआ वो.?

प्रश्न: एमसीडी में बीजेपी 10 साल से सत्ता में काबिज है लेकिन पार्टी ने किसी भी पार्षद को टिकट नहीं दिया. इसकी वजह क्या है.?

उत्तर: देखिए पहले तो पार्टी की अपनी नीति होती है. दूसरे, हम नए लोगो को मौका देना चाहते थे इसलिए पार्षद को टिकट नहीं दिया.

प्रश्न: दिल्ली मे 3 एमसीडी है लेकिन राज्य और केन्द्र की लड़ाई में सफाई कर्मचारियो की महीनो की सैलरी रुक जाती है. उनमें से ज्यादातर दलित ही है. केन्द्र और राज्य की चक्की में वो बीच में क्यों पिसे?

उत्तर: जो राज्य का रेवेन्यू शेयर करने की जिम्मेदारी है उसे पूरा करना चाहिए. नहीं किया तो वो गैप रह जाता है उसकी वजह से सैलरी नहीं मिल पाती है.

टीएनआई: उदित राज जी आपने हमें समय दिया इसके लिए धन्यवाद

उदित राज: धन्यवाद

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY